Thursday, May 21, 2009

जिनके जरिये हम तुम्हें मिले वो जरिया ही टूट गया ..
और जिनको महोब्बत दिल से की वो दिल ही टूट गया...

नीता कोटेचा..