Thursday, May 21, 2009

प्यार आख का आंसू है ..
और प्यार दिल की धड़कन है...
पर प्यार मत करो दोस्तों, किसी से दुनिया में ..
क्योकि
प्यार ही धीमा जहेर है...

नीता कोटेचा