Tuesday, October 16, 2007

दोस्ती

जब से तुमने ठुकराया ,

महोब्बत करनी छोड़ दी।

अब न बात करेंगे तुमसे,

बात सबसे ही करनी हमने

छोड़ दी


तुम्हें पसंद न आये तो तुम्हारी राह ही

हमने छोड़ दी।

अफ़सोस है तो सिर्फकि,

कुछ कहे बिना ही

तुमने दोस्ती तोड़ दी।

नीता कोटेचा