Monday, February 9, 2009


नमस्ते दोस्तों
मै आपकी दुनिया में पहेली बार प्रवेश कर रही हु...मेरा नाम यशोदा पलन ..मै लेखिका और कवियत्री हु ..मेरी दो पुस्तक गुजराती में प्रकाशित हुई है ....
अगर आप मुझसे मिले होते तो आपको ऐसा लगता की ये कैसे लिखति होगी?क्योकि मै फिजिकली hendIkep हु ..सात सल् की आयु से ही रुमेटोइड आर्थ्राईटीस नामकी बिमारी मुझे हो गई थी...तब से मै बिस्तर पे ही हु...दोनों पैर गुटने से मुड़ते ही नही है ..दाहिना हाथ सीधा ही रहेता है और उसी हाथ की दो पहेली उंगलिया
हमेशा मुडी हुई रहेती है..और वो ही मुडी हुई उंगलिया के बिच्मेही पेन पकड़ कर लिखति हु ..इतने सालो से ऐसे ही कहानिया लिखके ,लेख लिखके जो मिलता था उससे घर चलता था मतलब खाना मिल जता था..पर अबा मेरी आखो का रेटिना दुर्बल हो गया है..और आखो की रौशनी को बचाने के लिए मुझे डर दो महीने में एक बार इंजेक्शन लेना पडेगा..डॉ ..कम करके भी मुझसे ५०००/ एक इंजेक्शन का कह रहे है..एक साल का इंजेक्शन मतलब ३०,००० Rs ..जो अब मेरे बस की बात नही रही..पर आख़ ही मेरा जीवन है...तो क्या आप मुझे मेरी आखों को बचाने के लिए मदद कर सकते हो???
अगर किसीको भी मुझसे मिलना है तो नीता आपको मेरे घर तक जरुर ले आएगी
मेरा add

यशोदा पलन
डी लोहाना परिषद्
पहेला माला ,रूम नम्बर ३९.. एन एस रोड
मुलुंड वेस्ट
मुंबई ..४०००८०
मेरे डॉ..का नाम है

डॉ.गौरांग शाह
9820047411

अगर नीता को कुश संदेश देना है तो उसका id है

neetakotecha.1968@gmail.com