Thursday, July 28, 2011

समंदर से कह दो कि अपनी लहरों को संभाल के रखे..

फिर शिकायत ना करे ,
क्योकि हम अपने आप में बहुत तुफ्फां छिपा रखे है

नीता कोटेचा